हाइवे पर शराब बैन फिर भी यूं निकाला तोड़

0
29
http://reportbreaks.com/wp-content/uploads/2016/08/Greenland.jpg

तिरुअनंतपुरम: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी हाइवे के किनारे बने कई शराबखानों के दरवाजे बंद नहीं हुए हैं। कुछ जगहों पर उन तक पहुंचने की राह जरूर कठिन हो गई है। शराब की दुकानों के मालिक सर्वोच्च अदालत की नाफरमानी के ऐसे तरीके खोज रहे हैं जिससे सांप भी मर जाए और लाठी भी ना टूटे जिसकी दिलचस्प मिसाल केरल में देखने को मिली है।
आदेश का तोड़ , बदला एंट्रेंस का रास्ता
एर्नाकुलम जिले के परावुर इलाके में एक बार हाइवे से 500 मीटर के दायरे में थी, लिहाजा सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उसका बंद होना तय था, लेकिन मालिक ने बार तक पहुंचने के रास्ते को ही लंबा कर दिया। सुप्रीम कोर्ट के आदेश का तोड़ निकालने के लिए बार की एंट्रेंस पिछले दरवाजे से कर दी गई और यहां तक पहुंचने के रास्ते को एक भूल-भुलैया की शक्ल दे दी गई। सुप्रीम कोर्ट का आदेश आने के बाद कई शराब की दुकानों के मालिक जगह शिफ्ट करने मे जुटे हैं। कई होटलों में बार इमारत के भीतर है और बिल्डिंग के नक्शे में थोड़े-बहुत बदलाव से ही हाइवे से बार की दूरी को बढ़ाया जा रहा है।

कोई जवाब दें